संदेश

June, 2010 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

तुम होते तो 27 के होते

चित्र
माँ कहती है, आज अगर तुम होते तो 27 के होते,
और तुम्हारे जन्मदिन पर, आज शाम को खूब मस्ती करते.
पर! आज सुबह मैंने दीवार से तुम्हारी तस्वीर उतर कर,
उस पर फूलों की माला चढ़ाई, और माँ ने तिलक लगाया,
आज घर में खीर और सब्जी-पुड़ी बनी है,
माँ जानती है, तुम्हें क्या पसंद है...
Happy B'day Bhai...God bless u!

कुछ दिनों की मेहनत

इश्क बरसे गोलमाल...(इश्क बरसे राजनीति से और गोलमाल का title ट्रैक.

पेश है जलवा wid dhoom touch..

.